आयुर्वेदिक दवाओं और जड़ी बूटी की जानकारी और बिमारियों को दूर करने के आयुर्वेदिक फ़ार्मूले और घरेलु नुस्खे की जानकारी हम यहाँ आपके लिए प्रस्तुत करते हैं

09 January 2016

Home Remedy for Sciatic nerve pain | Sciatica Ke Dard Ki Kaargar Gharelu Dawa | साइटिका की घरेलु औषधि



साइटिका एक बहुत ही कष्टदायक रोग है जिसमे कमर से लेकर पैर तक Sciatic Nerve में दर्द और जकड़न होती है | शरीर की सबसे बड़ी nerve ही Sciatic Nerve है | इसका दर्द कमर से लेकर जांघ के पिछले हिस्से में होता है जो की पैर तक जाता है | तो आईये जानते हैं कि इस दर्द को कैसे दूर कर सकते हैं ?

इसके लिए आपको चार चीज़ें चाहिए – सहजने के जड़ की ताज़ी छाल, अजवायन, सोंठ और शुद्ध हिंग



सहजन के जड़ की ताज़ा छाल – सहजन को शोभांजन, सहिजन, शिग्रु, मूनगा, सुटी इत्यादि नामों से जाना जाता है और अंग्रेजी में इसे Drum Stick या Moringa Concanesis कहा जाता है | इसका पेड़ होता है और आप इसकी जड़ मिट्टी खोद कर निकल सकते हैं(ताज़ा छाल उपलब्ध न हो तो सुखी हुयी भी इस्तेमाल कर सकते हैं) | इसके फल को सब्ज़ी के रूप में प्रायः हर जगह इस्तेमाल किया जाता है, चित्र के माध्यम से आप आसानी से इसे समझ सकते हैं | 



अजवायन और सोंठ तो आप जानते ही हैं तो अब जानते हैं हिंग को शुद्ध करने का तरीका –

आपको असली हिंग लेना है जो की जड़ी-बूटी विक्रेता के यहाँ से मिल सकती है | अधिकतर हिंग में मिलावट पाई जाती है पर विश्वसनीय विक्रेता आपको असली हिंग(हिरा हिंग) दे सकता है | तो हिंग के छोटे-छोटे टुकड़े कर तवे पर थोड़ी से घी डालकर Fry कर लें(ध्यान रहे हल्का फ्राई करना है), बस हिंग का शुद्धिकरण हो गया | ठंडा होने पर पिस कर रख लें |

प्रयोग कैसे करना है?



सहजने की जड़ की ताज़ा छाल 200 ग्राम लेकर मोटा-मोटा कूट लें और एक लीटर पानी में उबालें और जब आठवां भाग शेष रह जाये (मतलब 125 मिलीलीटर) तो मसलकर छान लें और ठंडा होने पर इसमें अजवायन पाउडर 500 मि.ग्रा., सोंठ का पाउडर 500 मि.ग्रा और शुद्ध हिंग पीसी हुयी 125 मि.ग्रा मिलाकर पी जाएँ | इसे ख़ाली पेट सुबह-शाम लेना है, सिर्फ़ तिन दिन में ही आराम मिलने लगता है, लगातार कुछ दिनों तक सेवन करने से साइटिका दूर होता है, साइटिका के लिए रामबाण फ़ॉर्मूला है | किसी भी अंग्रेज़ी दवा या इंजेक्शन से बढ़िया काम करता है साथ ही साथ गठियावात, अर्धांग्वात और पक्षाघात या लकवा में भी लाभकारी है | प्रयोग अवधि में वातकारक चीज़ों से परहेज़ रखें | कोई सवाल या शंका हो तो कमेंट के माध्यम से हमसे पूछ सकते हैं |

Note- Agar iske saath saath 'Vishmushtika Vati' 1-1 goli subah sham doodh se liya jaye to bahut jald aram hota hai. Vishmushtika vati jo hai Vishtundak Vati ya Vishmushti Vati ke nam se kayi sari Ayurvedic company ki bani banayi mil jati hai. (Is vati ka istemal ayurvedic doctor ya vaidya ji ke dekh rekh me hi karen)
HOME REMEDY FOR SCIATICA OR SCIATIC NERVE PAIN

Sciatica is very painful disease. In this creates pain and stiffness from back to leg. Sciatic Nerve is the longest nerve of body. It pains from back to thigh towards leg. Let’s know how to remove this pain.

For this, you need four items- Fresh bark of Drum Stick root, Ajwain, Dry Ginger and purified Asafoetida.

Fresh bark of Drum Stick root- It called Moringa Concanesis scientifically. Its fruit used as vegetable which we all know as drum stick. Its tree becomes big in years. You can get its root bark by digging(If fresh bark not available then you can use dried also). You can easily identify this plant from above picture. Ajwain and dry ginger is very common. So now let’s know how to purify Asafoetida –
You need to take pure and genuine Asafoetida which can be found from trusted herb seller store. Crush asafoetida in small size and roast on a pan with little ghee. Roast/fry until become brown, after being cold make powder.  Now Asafoetida is purified and ready to use.

How to use?


Take fresh root bark of Murunga 200 gram and crush and boil in one liter water in slow flame until it remains 125 ml. After being cold squeeze and filter it. Then add Ajwain power 500mg, dry ginger powder 500mg and 125 mg purified asafoetida powder mix well and drink empty stomach twice daily morning and evening. It relieves sciatic nerve pain only in three days. Continue use removes Sciatica properly, this is sure shot 100% effective formula. It works better than any allopathic injection. This is also useful in gout, arthritis, paralysis etc. During usage of this formula avoid food which increases pain. Any question, doubt or concern? Please ask through comment. 


(लखैपुर वेबसाइट के ऍनड्राइड ऐप प्ले स्टोर से डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें)
Share This Info इस जानकारी को शेयर कीजिए
loading...
Loading...

8 comments:

  1. Mujhe ye janna hai ki jo pani hum 1 ltr ubalne wale hai aur uska decotion banna hai matlab 125ml bachana hai aur sehjan ki root ko masalna hai aisa maine apki vedio main deakha hai tho mujhe wo line samaj nh i kyu ki apne vedio main bola hai ki usko masal kar mila ke par main ye line nh samja tho kya karna hai wo janna tha mujhe jaise ki app ne bola hai ki 500gm ajwain ka powder,500 gm suath aur 125gm hing aur ye sare ingredins ko saat main milana hai par main ye nh samja ki sehjan ke pani main milana hai ki uske root jo humne haat se masle hai uske saat milana hai aur yr bhi nh samja ki basi mu kitna khana hai for e.g 1 spoon ya 2 spoon

    ReplyDelete
  2. Kya mujhe app ka koi contact no mill sakta hai jisse main app ko call kar saku ya fir ap mujhe ye no pe call kar sakte hai kya 9664513883 ya miss call please

    ReplyDelete
    Replies
    1. Dear Zohra Shaikh,
      500 gram nahin balki 500 miligram. Zyada samajh nahin aa raha to samajh len ki 2 chutki lena hai. Ek chhota chammach bhi le sakte hain. Aap facebook pe rabta kar sakte hain, kyunki main videsh me rahta hun. Facebook page- https://www.facebook.com/lakhaipuri
      Thanks

      Delete
  3. Hello sir. I wanted to know when and how i can contact you to learn more about the drink. Do we drink this concotion over the 7 days or do we make a new drink every day. Can I call you to clarify.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Hi, first very sorry for late reply. If you comment on our YouTube channel then can get reply within 24 hrs
      You need to make new drink everyday. You can try another one also- https://www.youtube.com/watch?v=Tr_BymKHwTw
      To contact us come on Facebook and get our whatsapp number. Thanks

      Delete
  4. सर, मुझे हर्निया ऑपरेशन के बाद मेरे लेफ्ट लोअर एब्डॉमिनल के जेनटिफ़िमोरल नर्व में नर्व इंट्रप होने के कारण इस नर्व में प्रॉपर ब्लड सर्कुलेशन नहीं है,जिससे दर्द बना रहता है और ये दर्द पीठ के निचले हिस्से तक फ़ैल जाता है।कृपया कोई दवा या नुस्खा बताये जिससे नर्व प्रॉपर ब्लड सर्कुलेशन हो और दर्द ख़त्म हो।धन्यवाद

    ReplyDelete
  5. सर, मुझे हर्निया ऑपरेशन के बाद मेरे लेफ्ट लोअर एब्डॉमिनल के जेनटिफ़िमोरल नर्व में नर्व इंट्रप होने के कारण इस नर्व में प्रॉपर ब्लड सर्कुलेशन नहीं है,जिससे दर्द बना रहता है और ये दर्द पीठ के निचले हिस्से तक फ़ैल जाता है।कृपया कोई दवा या नुस्खा बताये जिससे नर्व प्रॉपर ब्लड सर्कुलेशन हो और दर्द ख़त्म हो।धन्यवाद

    ReplyDelete

 
Blog Widget by LinkWithin