आयुर्वेदिक दवाओं और जड़ी बूटी की जानकारी और बिमारियों को दूर करने के आयुर्वेदिक फ़ार्मूले और घरेलु नुस्खे की जानकारी हम यहाँ आपके लिए प्रस्तुत करते हैं

13 August 2016

Liv 52 के फ़ायदे और उपयोग | Liv 52 ke fayde aur istemal | health benefits of liv 52


लिवर की यह जानी मानी दवा है जो लिवर की बीमारी को दूर करने के साथ-साथ लिवर को विषाक्त पदार्थों से रक्षा करती है. 

इसके मुख्य घटक हैं - हिमस्रा, कासनी, मंडूर भस्म, मकोय, अर्जुन, कासमर्द, बरंजासिफ और झावुका इत्यादि. 

आईये अब जानते हैं इसके गुण और उपयोग -

प्राकृतिक जड़ी-बूटी और मिनरल या यह प्रोडक्ट लीवर की ताक़त को बढ़ाता है जिस से पाचन तंत्र मज़बूत होता है. भूख बढ़ाता है जिस से स्वास्थ ठीक होता है. जौंडिस और संक्रमण वाले hepatitis के लिए बहुत ही असरदार है. 


हेल्थ supplement के लिए भी इसका इस्तेमाल होता है 

इसके इस्तेमाल से हेल्थ ठीक होता है. यह पेट की प्रॉब्लम, उलटी, गैस, सुस्ती, और भूख की कमी को दूर करता है. लीवर के फंक्शन को ठीक कर लीवर के विकारों को दूर कर देता है. 


यह एक पॉवर फुल लीवर प्रोटेक्टिव औषधि है 

लीवर की कार्यक्षमता को बढ़ाती है 

लीवर की नयी कोशिकाओं को बनने में सहायता करती है जिस से यह लीवर सिरोसिस में फ़ायदा करता है

हीमोग्लोबिन लेवल को सही करता है और वजन सुधार करता है 

दुबले पतले लोग अगर इसका रेगुलर इस्तेमाल करें तो सेहत लग जाती है और वज़न बढ़ जाता है

अल्कोहल से होने वाले लीवर डैमेज से बचाता है 

लम्बी बीमारी के बाद स्वास्थ क्षतिपूर्ति में भी मदद करता है

Fatty Liver को ठीक करता है जिस से यह कोलेस्ट्रॉल कम करने में भी सहायक है.


अब जानते हैं इसकी मात्रा और सेवन विधि -

Generally 1-1 टेबलेट सुबह शाम लेना चाहिए. लीवर की प्रॉब्लम में 2-2 टेबलेट 3 बार तक दिया जाता है. रोग और रोगी की क्षमता के मुताबिक़ इसकी डोज़ कम या ज़्यादा की जाती है. 

इसका सिरप भी और ड्राप भी रोग और रोगी की कंडीशन के मुताबिक़ करना चाहिए. 

यहाँ अपने अनुभव से एक बात बताना चाहूँगा की अगर आप चाहते हैं कि आपका लीवर ठीक रहे, पाचन शक्ति ठीक हो, कोलेस्ट्रॉल न बढ़े और healthy रहें तो एक से दो tablet इसे रोज़ खाना चाहिए. 


यह दवा साधारण होते हुए भी बड़े काम की है. हर जगह आसानी से मिल जाती है, हमारे देश के साथ साथ पूरी दुनियां में. यह एक पेटेंट आयुर्वेदिक दवा है जिसने आयुर्वेद की शक्ति का डंका पुरे दुनिया में बजाया है और साबित किया है कि आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों की पॉवर क्या है. 


यहाँ एक बात बताना चाहूँगा कि हमारे देश भारत में इसका टेबलेट शुगर कोटेड और रंगीन होता है. जबकि कई दुसरे देशों में tablet पर को कोट नहीं होता. जैसा की विडियो में देख कर समझ सकते हैं. 

3 दिन में जौंडिस ठीक करने का चमत्कारी ईलाज 

तो दोस्तों आपने आज जाना पोपुलर दवा Liv 52 के फ़ायदे और इस्तेमाल के बारे में.

इसी तरह की दूसरी जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट सब्सक्राइब ज़रूर कीजिये नयी जानकारियों की अपडेट पाने और बिमारियों को दूर करने के आयुर्वेदिक फ़ार्मूले जानने के लिए.

आज की जानकारी अच्छी लगी तो लाइक और शेयर कीजिये ताकि दुसरे लोग भी इसका फ़ायदा उठा सकें. इसे घर बैठे ऑनलाइन ख़रीदें निचे दिए लिंक से - 




Watch here with English Subtitle

आज की जानकारी के बारे में कोई सवाल हो तो कमेंट के माध्यम से हम से पूछिये. आपके सवालों का, राय और सुझाव का  स्वागत है. 

 आज के लिए इतना ही. आपकी स्वास्थ कामना के साथ इजाज़त चाहूँगा. धन्यवाद् 

इसे भी जानिए-





(लखैपुर वेबसाइट के ऍनड्राइड ऐप प्ले स्टोर से डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें)
Share This Info इस जानकारी को शेयर कीजिए
loading...
Loading...

6 comments:

  1. Kya ye kidney mai nhi fayda karta h

    ReplyDelete
  2. liv-52, liv-52 DS, liv-52 HB, mein kya difference hai

    ReplyDelete
  3. Liv-52 se koi problems to nhi hoti






    ReplyDelete
  4. मेरे लीवर बडा हुआ है और पुलिया भी है
    एक दिन मे कितनी गोली खाऊ

    ReplyDelete

 
Blog Widget by LinkWithin