आयुर्वेदिक दवाओं और जड़ी बूटी की जानकारी और बिमारियों को दूर करने के आयुर्वेदिक फ़ार्मूले और घरेलु नुस्खे की जानकारी हम यहाँ आपके लिए प्रस्तुत करते हैं

11 September 2016

पौरुष ग्रंथि वृद्धि या प्रोस्टेट ग्लैंड Enlargement को बिना ऑपरेशन ठीक करने का सफ़ल आयुर्वेदिक योग | Herbal treatment for prostate enlargement


आज मैं बता रहा हूँ पुरुषों के रोग पौरुष ग्रंथि वृद्धि या प्रोस्टेट ग्लैंड Enlargement को बिना ऑपरेशन ठीक करने का सफ़ल आयुर्वेदिक योग -

आयु बढ़ने के साथ ही पुरुषों में अक्सर यह समस्या हो जाती है. प्रोस्टेट ग्लैंड पुरुषों में पाई जाने वाली अखरोट के साइज़ की ग्रंथि है जो मूत्राशय के निचे मूत्र मार्ग को कवर करती है. यह एक तरह से वाल्व की तरह काम करती है जो पेशाब करने और पेशाब रोकने के फंक्शन को कण्ट्रोल करता है. 

प्रोस्टेट ग्लैंड की सामान्य वृद्धि को अंग्रेज़ी में Benign Prostatic Hyperplasia या  BPH कहा जाता है. यह वृद्धि आगे चलकर प्रोस्टेट कैंसर का रूप ले सकती है.

प्रोस्टेट ग्रंथि की वृद्धि होने पर कुछ समस्या और लक्षण उप्तन्न होते हैं जैसे - पेशाब करने में दर्द होना, बार-बार पेशाब होना, एक बार में पूरी तरह खुल कर पेशाब नहीं होना, पेशाब बंद होना, बूंद-बूंद पेशाब होना, पेशाब रोक नहीं पाना, यूरिन इन्फेक्शन होना इत्यादि 


सोनोग्राफी से ही इसका सही निदान होता है और इसके साइज़ का सही पता चलता है. डॉक्टर लोग अक्सर इसमें ऑपरेशन की सलाह देते हैं. पर आप को बता दूं  कि बिना ऑपरेशन यह ठीक हो जाता है, इस आयुर्वेदिक योग से जो मैं  बताने जा रहा हूँ. 

प्रोस्टेट ग्लैंड वृद्धि को ठीक करने के लिए इन औषधियों का सेवन करें -

योग नंबर -1 

कांचनार गुगुल, गोक्षुरादी गुगुल और चन्द्रप्रभा वटी तीनों 1-1 गोली सुबह शाम गिलोय के रस या काढ़े के साथ लें 

योग नंबर - 2

वंग भस्म 10 ग्राम, गोदंती भस्म 20 ग्राम और शुद्ध नौसादर, उटंगन बिज का चूर्ण, शीतलचीनी चूर्ण प्रत्येक 50 ग्राम 

सभी को अच्छी तरह मिक्स कर 1-1 चम्मच (तीन ग्राम तक) भोजन के बाद सुबह शाम मधु या पानी के साथ लें 

बताया गया दोनों योग का साथ में इस्तेमाल करना है. योग नंबर 1 की औषधियां बनी बनायीं आयुर्वेदिक मेडिकल में मिल जाती है. 

इसे भी देखें - किडनी और मूत्राशय की पत्थरी का ईलाज 

अगर योग नंबर दो नहीं बना पा रहे हों तो इसके जगह पर 'बंगशील' और 'फोर्टेज' 2-2 टेबलेट सुबह शाम लेना चाहिए. अलार्सिन कंपनी की दवा है जो आयुर्वेदिक मेडिकल स्टोर में मिल जाएगी. 


इन औषधियों के प्रयोग से पहले हफ्ते से ही पेशाब की प्रॉब्लम में फ़ायदा दिखने लगता है और कुछ महीनों के लगातार इस्तेमाल से प्रोस्टेट ग्लैंड नार्मल हो जाता है और ऑपरेशन की ज़रूरत नहीं पड़ती. कई रोगियों पर प्रयोग कर सफ़ल पाया है. 


इसके प्रयोग अवधि में बीच-बीच में सोनोग्राफी से प्रोस्टेट ग्लैंड का साइज़ पता करते रहना चाहिए. 

दो दोस्तों ये था बिना ऑपरेशन प्रोस्टेट ग्लैंड वृद्धि को ठीक करने का सफ़ल आयुर्वेदिक योग. 

Watch here with English subtitle 


loading...
(लखैपुर वेबसाइट के ऍनड्राइड ऐप प्ले स्टोर से डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें)
Share This Info इस जानकारी को शेयर कीजिए
loading...
Loading...

0 comments:

Post a Comment

 
Blog Widget by LinkWithin