आयुर्वेदिक दवाओं और जड़ी बूटी की जानकारी और बिमारियों को दूर करने के आयुर्वेदिक फ़ार्मूले और घरेलु नुस्खे की जानकारी हम यहाँ आपके लिए प्रस्तुत करते हैं

25 October 2016

Himalaya Himplasia प्रोस्टेट ग्लैंड वृद्धि के लिए | Himalaya Himplasia For Prostate Gland Enlargement Treatment


प्रोस्टेट ग्लैंड बढ़ जाने पर इस्तेमाल की जाने वाली दवा हिमालया हर्बल की हिमप्लेजिया के फ़ायदे और इस्तेमाल की जानकारी 

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि प्रोस्टेट ग्लैंड पुरुष प्रजनन प्रणाली का हिस्सा है, यह मूत्राशय के ठीक निचे होता है और पेशाब की नली इसके बीच से होकर गुज़रती है 

हिमालया हर्बल की हिमप्लेजिया टेबलेट प्रोस्टेट ग्लैंड के साइज़ को नार्मल करने के लिए इस्तेमाल की जाती है 

प्रोस्टेट ग्लैंड को ठीक करने के लिए शास्त्रीय आयुर्वेदिक दवा के बारे में मैंने एक दुसरे विडियो में बताया है जिसमे दो आयुर्वेदिक योग की जानकारी दी गयी है 

हिमालया हर्बल की हिमप्लेजिया टेबलेट हर जगह मिल जाती है जिसे कोई भी लेकर इस्तेमाल कर सकता है 



पौरुष ग्रंथि वृद्धि को बिनाइन प्रोस्टेटीक हाइपरप्लेजिया (Benign Prostatic Hyperplasia) या BPH के नाम से जाना जाता है जिसे आप पौरुष ग्रंथि की असामान्य  कह सकते हैं 

प्रोस्टेट ग्लैंड उम्र के साथ बढ़ती रहती है पर जब यह ज़्यादा बढ़ जाती है तो इसकी वजह से पेशाब की नली पर प्रेशर बढ़ता है जिसकी वजह से खुलकर पेशाब नहीं होता और मूत्राशय पूरी तरह ख़ाली नहीं होता है

इसकी वजह से पेशाब की प्रॉब्लम हो जाती है जैसे-

बार-बार पेशाब लगना ख़ासकर रात में 

पेशाब में जलन होना, पेशाब करते समय दर्द होना 

बून्द-बून्द पेशाब होना या पेशाब बंद हो जाना 

पेशाब करने के तुरंत बाद भी पेशाब लग जाना जैसे लक्षण दीखते हैं 

पेशाब रोकने की ताक़त कम जाती है

इसकी सही डायग्नोसिस अल्ट्रासोनोग्राफी से की जाती है 

इन सारी प्रॉब्लम और लक्षण को दूर करने के लिए हिमालया हर्बल की हिमप्लेजिया टेबलेट बहुत ही असरदार दवा है 

तो आईये जान लेते हैं कि इसका कम्पोजीशन क्या है -

इसमें इन सारी जड़ी बूटियों को मिलाया गया है 
गोक्षुर (Tribulus terrestris)- मूत्र रोगों को दूर करने वाली बेहतरीन जड़ी है, पेशाब साफ़ लाती है
पूतिकरंज (Caesalpinia bonducella) - प्रोस्टेट ग्लैंड के बेहतरीन दवा है 
पुगा (Areca catechu)- इसे आम बोलचाल में सुपारी भी कहते हैं, यह प्रोस्टेट के साइज़ को कम करने में मदद करती है 
शतावरी (Asparagus racemosus)- शक्ति देने वाली और यूरिनरी system पर असर करने वाली जड़ी है 
वरुण (Crataeva nurvala)- वरुण की छाल मूत्राशय, किडनी रोग और ग्लैंड की साइज़ को कम करने वाली औषधि है 
अकीक पिष्टी- ये अकीक पत्थर से बनी औषधि होती है जो की शीतलता देने वाली दवा है, Hypertension  और हार्ट के रोगों में लाभकारी है 

इसके अलावा इसमें कुछ जड़ी बूटियों का extract भी मिलाया गया है जो इस प्रकार हैं- 

बबूल (Acacia Nilotica)- मूत्र रोगों में लाभकारी 
कुल्थी (Dolichos Biflorus)- यह भी मूत्र रोगों में लाभकारी, पत्थरी और ग्लैंड को दूर करने वाले गुणों से भरपूर है, इसके बीजों की दाल बनाकर भी खायी जाती है 
घृत कुमारी (Aloe vera) - इसे एलो वेरा के नाम से जाना जाता है जो कि एक बेहतरीन एंटी ऑक्सीडेंट है 

इन 6 दवाओं के पाउडर और इन 3 जड़ी बूटियों की भावना यानि extract के मिलने से  हिमप्लेजिया टेबलेट  एक असरदार दवा बन जाती है जो प्रोस्टेट ग्लैंड को नार्मल करने की क्षमता रखती है 


अब जानते हैं  हिमप्लेजिया टेबलेट के फ़ायदे के बारे में - 

 हिमप्लेजिया टेबलेट  5- Alpha Reductase Enzyme का अवरोध करने वाली है जो BPH के ईलाज में इस्तेमाल किया जाता है 

यह प्रोस्टेट ग्लैंड के साइज़ और वज़न को कम कर देती है 

इसमें एंटी बायोटिक, एंटी inflammatory, एंटी hypertensive, एंटी ऑक्सीडेंट, एंटी spasmodic गुण हैं  

इसके इस्तेमाल से पेशाब खुलकर आता है 

बार-बार पेशाब होने को कम करता है 

मूत्र संक्रमण यानि Urinary Tract Infection से बचाता है जिसे UTI कहते हैं 

हिमप्लेजिया टेबलेट नेचुरल दवा की तरह प्रोस्टेट ग्लैंड को healthy बनाता है 

हिमालया हर्बल की हिमप्लेजिया टेबलेट का डोज़ - 

1 से 2 टेबलेट सुबह शाम पानी के साथ लेना चाहिए 

हिमप्लेजिया टेबलेट पूरी तरह से आयुर्वेदिक दवा है जिसका कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं है, इसे लम्बे समय तक भी लिया जा सकता है, कई रोगियों को इसका इस्तेमाल 6 महिना तक भी कराया जाता है 

अगर इसके साथ 'चन्द्रप्रभा वटी' भी 2 -2 गोली सुबह शाम लिया जाये तो जल्दी फ़ायदा मिलता है 

तो दोस्तों, ये थी हिमप्लेजिया टेबलेट के फ़ायदे और इस्तेमाल की जानकारी. 

जिसके इस्तेमाल से बढ़े हुवे प्रोस्टेट ग्लैंड को ठीक किया जा सकता है 




Watch here with English subtitle


ऑनलाइन ख़रीदें निचे दिए गए लिंक से- 

(लखैपुर वेबसाइट के ऍनड्राइड ऐप प्ले स्टोर से डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें)
Share This Info इस जानकारी को शेयर कीजिए
loading...
Loading...

0 comments:

Post a Comment

 
Blog Widget by LinkWithin