भारत की सर्वश्रेष्ठ आयुर्वेदिक हिन्दी वेबसाइट लखैपुर डॉट कॉम पर आपका स्वागत है

22 February 2017

दिव्य मकरध्वज के फायदे | बिजली जैसी ताक़त देने वाला महा शक्तिशाली योग | Divya Makardhwaj Benefits & Use


मकरध्वज का नाम आपने कहीं न कहीं सुना ही होगा, यह आयुर्वेद की एक महान दवा है जो त्रिदोष नाशक है, जिसकी वजह से सारे रोग दूर होते हैं

मकरध्वज एक बड़ा विषय है जिस पर आज मैं चर्चा नहीं करूँगा बल्कि पतंजलि के दिव्य मकरध्वज के बारे में बताऊंगा

मकरध्वज सर्वरोगनाशक उत्तम टॉनिक है इसके इस्तेमाल से नवयौवन आता है, यौन दुर्बलता और हर तरह के पुरुष रोग दूर होते हैं

सबसे पहले जान लेते हैं दिव्य मकरध्वज का कम्पोजीशन- 

इसे रस सिन्दूर, स्वर्ण भस्म, लौह भस्म, लौंग, कपूर, जायफल और जावित्री के मिश्रण से बनाया जाता है

पान के पत्तों के रस की भावना देकर अच्छी तरह से खरल कर सुखाकर रखा जाता है 

दिव्य मकरध्वज के फ़ायदे-

मकरध्वज एक बेस्ट टॉनिक है, इसके इस्तेमाल से ताक़त बढ़ती है और कमजोरी दूर होती है  

यह एक रसायन है पुरुषों की सेक्सुअल प्रॉब्लम को दूर करता है, इसके इस्तेमाल से शीघ्रपतन, इरेक्टाइल डिसफंक्शन, यौनेक्षा की कमी इत्यादि दूर होते हैं 



पुरुष रोगों में इसे असगंध, सफ़ेद मुसली या कौंच बीज के साथ लेने से अच्छा परिणाम मिलता है 

नर्वस सिस्टम को ताक़त देता है, हार्ट की कमजोरी, नसों का ढीलापन इत्यादि दूर करता है 

एंटी एजिंग गुणों से भरपूर है, यौवन बनाये रखने में मदद करता है, शारीरिक और मानसिक कमजोरी को दूर करता है 

सर्दी, खांसी और सीने की जकड़न में भी इसके इस्तेमाल से फायदा होता है 
मकरध्वज को अलग-अलग अनुपान के साथ कई रोगों में दिया जा सकता है 



मकरध्वज का डोज़- 

125 mg तक दिन में दो बार शहद के साथ भोजन के बाद लेना चाहिए 

इसे आयुर्वेदिक डॉक्टर की सलाह से ही लेना चाहिए, इसका डोज़ रोग और रोगी की कंडीशन पर डिपेंड करता है. दिव्य मकरध्वज ऑनलाइन ख़रीदने के लिए यहाँ क्लिक करें  

स्पेशल मकरध्वज, मकरध्वज वटी, सिद्ध मकरध्वज और मकरध्वज बनाने की विधि के बारे में विस्तृत जानकारी जल्द ही देने की कोशिश करूँगा 

 जय हिन्द!!! जय आयुर्वेद!!! 



loading...
हमारे विशेषज्ञ आयुर्वेदिक डॉक्टर्स की टीम की सलाह पाने के लिए यहाँ क्लिक करें
Share This Info इस जानकारी को शेयर कीजिए
loading...

0 comments:

Post a Comment

 
Blog Widget by LinkWithin