भारत की सर्वश्रेष्ठ आयुर्वेदिक हिन्दी वेबसाइट लखैपुर डॉट कॉम पर आपका स्वागत है

22 March 2017

Patanjali Lauki Amla Juice Review | पतंजलि लौकी आँवला जूस के फ़ायदे- Lakhaipurtv


लौकी आँवला जूस के वही फ़ायदे हैं जो लौकी और आँवला के होते हैं, लौकी एक सब्ज़ी होने के साथ असरदार औषधि भी है जबकि आँवला तो अपने गुणों के कारण दुनियाभर में जाना जाता है

पतंजलि लौकी आँवला जूस के इस्तेमाल से कब्ज़, कमज़ोरी, खून की कमी, ओलिगुरिया, भूख कम लगना और वीर्य दोष जैसे कई सारे रोग दूर होते हैं

पतंजलि लौकी आँवला जूस के कम्पोजीशन की बात करें तो इसमें आँवला का जूस 50 परसेंट, लौकी का जूस 49.5 % होता है, 0.5 परसेंट में पुदीना और तुलसी का एक्सट्रेक्ट और कुछ प्रीज़रवेटिव मिले होते हैं, ताकि जूस ख़राब न हो 

लौकी आँवला जूस के फ़ायदे- 

एंटी एजिंग और एंटी ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर है, इसके इस्तेमाल से इम्युनिटी पॉवर बढ़ती है 

पेट के रोगों के लिए बहुत ही असरदार है, कब्ज़, भूख की कमी, एसिडिटी, Digestion की प्रॉब्लम को दूर करता है 

खून की कमी या एनीमिया को दूर करता है, हाथ-पैर काम्पने और शारीरिक कमज़ोरी में फ़ायदा होता है 



लौकी आँवला जूस कई तरह की बीमारियों से बचाता है जैसे- डायबिटीज, अल्सर, जौंडिस, अस्थमा और फेफड़ों के रोग 

आँवला मिला होने से विटामिन C से भरपूर होता है, बालों का गिरना रोकता है और हेयर ग्रोथ में मदद करता है 

धातु दोष, वीर्य विकार, वीर्य का पतलापन और स्वप्नदोष या नाईटफॉल में इसके इस्तेमाल से फ़ायदा होता है 

पेशाब साफ़ नहीं होना या पेशाब कम होने की प्रॉब्लम में भी इसका इस्तेमाल करना चाहिए

इसके अलावा हार्ट डिजीज, स्किन प्रॉब्लम, गले की ख़राश, आँखों की रौशनी, हड्डियों की कमज़ोरी, मोटापा, लीवर की सुजन, नींद नहीं आना जैसी प्रॉब्लम में फ़ायदा करता है 

आईये अब जानते हैं पतंजलि लौकी आँवला जूस का डोज़-

15 से 25 ML तक एक कप गुनगुने पानी में मिलाकर दिन में दो बार खाना खाने के बाद लेना चाहिए

पतंजलि स्टोर से या फिर ऑनलाइन खरीद सकते हैं, एक लीटर की क़ीमत 90 रुपया है, इसके जगह पर फ्रेश लौकी आँवला जूस घर पर बनाकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं. घर बैठे ऑनलाइन खरीदें, निचे दिए लिंक से -




हमारे विशेषज्ञ आयुर्वेदिक डॉक्टर्स की टीम की सलाह पाने के लिए यहाँ क्लिक करें
Share This Info इस जानकारी को शेयर कीजिए
loading...

0 comments:

Post a Comment

 
Blog Widget by LinkWithin