आयुर्वेदिक दवाओं और जड़ी बूटी की जानकारी और बिमारियों को दूर करने के आयुर्वेदिक फ़ार्मूले और घरेलु नुस्खे की जानकारी हम यहाँ आपके लिए प्रस्तुत करते हैं

21 July 2017

Himalaya Arjuna Capsule Review | हिमालया अर्जुना कैप्सूल, ह्रदय रोग और ब्लड प्रेशर की आयुर्वेदिक दवा


हिमालया अर्जुना हार्ट के रोगों और ब्लड प्रेशर की जानी-मानी दवा है, इसके इस्तेमाल से दिल की कमज़ोरी, दिल का दर्द, हार्ट बीट ज़्यादा होना, कोलेस्ट्रॉल और ब्लड प्रेशर जैसे रोग दूर होते हैं. तो आईये जानते हैं हिमालया अर्जुना का कम्पोजीशन, फ़ायदे और इस्तेमाल की पूरी डिटेल -

हिमालया अर्जुना कैप्सूल में अर्जुन नाम के पेड़ की छाल का एक्सट्रेक्ट होता है, इसके हर कैप्सूल में अर्जुन छाल का एक्सट्रेक्ट 250 mg होता है. अर्जुन की छाल हार्ट के रोगों के लिए आयुर्वेद की मेन दवा है जिसे सदियों से इस्तेमाल किया जा रहा है. अर्जुन एक तरह का बड़ा पेड़ होता है जिसे अंग्रेज़ी में Terminalia Arjuna के नाम से जाना जाता है.

हिमालया अर्जुना कैप्सूल/टेबलेट के गुण - 

अर्जुना कैप्सूल के वही गुण हैं जो अर्जुन की छाल के गुण होते हैं. इसे गुणों की बात करें तो यह ह्रदय को शक्ति देने वाला, कफ़-पित्त नाशक, कार्डियो प्रोटेक्टिव, बेस्ट कार्डियो टॉनिक, एंटी इंफ्लेमेटरी, एंटी ऑक्सीडेंट और मेदहर यानि एंटी ओबेसिटी जैसे गुणों से भरपूर होता है. 


हिमालया अर्जुना कैप्सूल के फ़ायदे-

हार्ट की कमज़ोरी और इससे रिलेटेड रोगों के लिए जड़ी-बूटियों में अर्जुन सबसे बेस्ट दवा है. 

हार्ट की कैसी भी प्रॉब्लम हो तो आँख मूंद कर इसका इस्तेमाल कर सकते हैं, हार्ट की  कमज़ोरी, दिल का दर्द या एनजाइना पेक्टोरिस, दिल की कमज़ोरी की वजह से होने वाली घबराहट, हार्ट बीट ज़्यादा होना, हार्ट के मसल्स कमज़ोर होना, बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल और हाई ब्लड प्रेशर जैसे रोगों में इस से फ़ायदा होता है. 

यह हार्ट वेसेल्स को कड़ा होने, और ब्लड क्लॉट होने से बचाता है, ब्लड सर्कुलेशन को नार्मल करता है. कुल मिलाकर देखा जाये तो यह हार्ट के रोगों के लिए चीप एंड बेस्ट मेडिसिन है.


हिमालया अर्जुना का डोज़-

एक से दो कैप्सूल या टेबलेट सुबह खाना खाने के बाद पानी से लेना चाहिए, या फिर डॉक्टर की सलाह के अनुसार डोज़ होना चाहिए. यह ऑलमोस्ट सेफ़ दवा है, किसी तरह का कोई साइड इफ़ेक्ट या  नुकसान नहीं होता है. लॉन्ग टाइम तक यूज़ किया जा सकता है. कब्ज़ हो तो इसका इस्तेमाल न करें, या फिर कब्ज़ दूर करने की दवा लेते हुवे इसका इस्तेमाल कर सकते हैं. इसे दवा दुकान से या फिर निचे दिए गए लिंक से ऑनलाइन ख़रीद सकते हैं. 



इसे भी जानिए -




(लखैपुर वेबसाइट के ऍनड्राइड ऐप प्ले स्टोर से डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें)
Share This Info इस जानकारी को शेयर कीजिए
loading...
Loading...

0 comments:

Post a Comment

 
Blog Widget by LinkWithin