आयुर्वेदिक दवाओं और जड़ी बूटी की जानकारी और बिमारियों को दूर करने के आयुर्वेदिक फ़ार्मूले और घरेलु नुस्खे की जानकारी हम यहाँ आपके लिए प्रस्तुत करते हैं

30 September 2017

Majun Falasfa Benefits in Urdu/Hindi | माजून फ़्लास्फ़ा के फ़ायदे


माजून फ़्लास्फ़ा एक क्लासिकल यूनानी मेडिसिन है जिसे यूरिनरी सिस्टम, नर्वस सिस्टम और मर्दों के Reproductive System की बीमारियों के लिए इस्तेमाल किया जाता है. तो आईये जानते हैं माजून फ़्लास्फ़ा क्या है? इसका कम्पोजीशन, फ़ायदे और इस्तेमाल की पूरी डिटेल - 

माजून फ़्लास्फ़ा जैसा कि इसके नाम से ही पता चलता है माजून या हलवे के तरह की दवा होती है जिसे कई तरह की जड़ी-बूटियों को मिलाकर बनाया जाता है. इसके कम्पोजीशन की बात करें तो इसमें -

मगज़ चिल्गोज़ा - 30 ग्राम 

आँवला मुक्क़शिर - 30 ग्राम 

बैख़ बाबूना - 30 ग्राम 

फ़िल्फिल दराज़ - 30 ग्राम 

फ़िल्फिल स्याह - 30 ग्राम 

नार्जिल ताज़ा - 30 ग्राम 

सालब मिश्री - 30 ग्राम 

शित्रज हिंदी - 30 ग्राम 

दारचीनी - 30 ग्राम 

ज़रवंद मुदहरज - 30 ग्राम 

ज़न्जबिल - 30 ग्राम 

तुख्म बाबूना - 15 ग्राम 

मर्विज़ मुनक्का - 90 ग्राम 

शहद असली - 810 ग्राम का मिश्रण होता है. बनाने का तरीका यह है कि सभी जड़ी-बूटियों का बारीक चूर्ण बनाकर शहद में अच्छी तरह से मिक्स कर रख लें बस माजून फ़्लास्फ़ा तैयार है. 


माजून फ़्लास्फ़ा के गुण - 

यह तासीर में नार्मल से थोड़ा ख़ुश्क होता है. इसके गुण या प्रॉपर्टीज की बात करें तो यह नर्वस सिस्टम को ताक़त देने वाला(Neuroprotective), दिमागी टॉनिक(Brain Tonic), यूरिनरी सिस्टम को ताक़त देना वाला, बल-वीर्य वर्धक, यौन शक्ति वर्धक और पाचक(Digestive Stimulant) गुणों से भरपूर होता है. 


माजून फ़्लास्फ़ा के फ़ायदे - 

किडनी का दर्द, किडनी की ख़राबी, पेशाब ज़्यादा होना(Polyuria), नर्वस सिस्टम की कमज़ोरी, मर्दाना कमज़ोरी, पॉवर और स्टैमिना की कमी, वीर्य का पतलापन, स्पर्म काउंट की कमी, सामान्य कमज़ोरी, भूख नहीं लगना, हाजमा कमज़ोर होना जैसी प्रॉब्लम को दूर करता है. 

यह दिमाग को ताकत देता है और यूरिनरी सिस्टम के रोगों को दूर करता है. 

सलाब मिश्री जैसी चीज़ें मिला होने से मर्दाना ताक़त को बढ़ाता है. 

फ़िल्फिल स्याह और फ़िल्फिल दराज़ जैसी चीज़ें मिला होने से Digestion ठीक कर भूख को बढ़ाता है. 

कुल मिलाकर देखा जाये तो यूरिनरी सिस्टम, नर्वस सिस्टम और मर्दों के Reproductive System की बीमारियों के लिए इफेक्टिव दवा है. 


माजून फ़्लास्फ़ा डोज़ और इस्तेमाल करने का तरीका - 

पांच से दस ग्राम या एक टीस्पून तक दिन में दो बार नाश्ता और खाने के दो घंटे बाद पानी या गर्म दूध से लेना चाहिए. इसे खाने के पहले भी ले सकते हैं. लेने का तरीका डिपेंड करता है रोग और रोगी की कंडीशन पर. 

यह बिल्कुल सेफ़ दवा है, किसी तरह का कोई साइड इफ़ेक्ट या नुकसान नहीं होता है. किडनी की प्रॉब्लम और पेशाब ज़्यादा होने पर इसके साथ चन्द्रप्रभा वटी भी लेना चाहिए. या फिर बीमारी के मुताबिक़ साथ में दूसरी दवाएँ लेनी चाहिए. हमदर्द के 150 ग्राम के पैक की क़ीमत क़रीब 70 रुपया है. दूसरी यूनानी कम्पनियाँ भी इसे बनाती है, यूनानी दवा दुकान से या फिर ऑनलाइन ख़रीद सकते हैं. 


इसे भी जानिए - 






loading...
(लखैपुर वेबसाइट के ऍनड्राइड ऐप प्ले स्टोर से डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें)
Share This Info इस जानकारी को शेयर कीजिए
loading...
Loading...

0 comments:

Post a Comment

 
Blog Widget by LinkWithin