भारत की सर्वश्रेष्ठ आयुर्वेदिक हिन्दी वेबसाइट लखैपुर डॉट कॉम पर आपका स्वागत है

03 April 2018

Amlycure DS Review in Hindi | एम्लीक्योर डी एस के फ़ायदे - Lakhaipur.com


Amlycure DS एमिल फार्मा नाम की कंपनी का पेटेंट ब्रांड है जो लिवर को प्रोटेक्ट करती है और लिवर की बीमारियों के लिए बेहद असरदार है. यह जौंडिस, लिवर का बढ़ जाना, लिवर सिरोसिस से लेकर हेपेटाइटिस तक में फ़ायदा करती है. तो आईये जतने हैं Amlycure DS का कम्पोजीशन, फ़ायदे और इस्तेमाल की पूरी डिटेल - 

Amlycure DS का कम्पोजीशन -

इसे कई तरह की जड़ी-बूटियों के मिश्रण से बनाया जाता है, इसके कम्पोजीशन की बात करें तो इसे भृंगराज, आँवला, अर्जुन, बहेड़ा, दारूहल्दी, चित्रक, मूली, पुनर्नवा, हरीतकी, गुडूची, मकोय, यवक्षर, अजवाइन, धनिया, अश्वगंधा, मंजीठ, कालमेघ, तुलसी, कासनी, रेवंदचीनी, घृतकुमारी, पित्तपापड़ा, कालीपथ, विडंग, कचूर, यष्टिमधु, झाऊ, कसोंदी, कुटकी, भूमि आंवला, सौंफ़, शतावर, मंडूकपर्णी, जीरा, आलू बुखारा, नागरमोथा, आम्रबीज, ब्रिन्जासिफ, चिरायता, अतीस, छोटी इलायची, काला नमक, निम्बू, रोहितका, नीम, गोखुरू और अरहर के मिश्रण से बनाया गया है. इसके कैप्सूल और सिरप दोनों का कम्पोजीशन लगभग सेम ही होता है. 

Amlycure DS के गुण या Properties - 

इसके गुणों की बात करें तो यह Hepto Protective, एंटी ऑक्सीडेंट, Detoxifier, इम्युनिटी बूस्टर और Digestive जैसे गुणों से भरपूर होता है.

Amlycure DS के फ़ायदे -

लिवर की हर तरह की बीमारी के लिए यह एक असरदार दवा है भूख की कमी, जौंडिस, लिवर-स्प्लीन का बढ़ जाना, वायरल हेपेटाइटिस, फैटी लिवर, लिवर सिरोसिस जैसे रोगों में फ़ायदेमंद है.

यह लिवर के सेल्स को Generate करता है, लिवर के फंक्शन को सही करता है और भूख बढ़ाता है. 

फैटी लीवर हो SGOT/SGPT बढ़ा हो तो दूसरी सयाहक औषधियों के साथ इसे लेना चाहिए. 

यह LFT को नार्मल करता है.

Amlycure DS को लिवर की प्रॉब्लम के लिए तो लेना ही चाहिए, पर इसे ऐसे भी लिवर प्रोटेक्टिव मेडिसिन के रूप में यूज़ कर सकते हैं क्योंकि यह लिवर Corrective और लिवर Protective दोनों तरह का काम करती है. 

Amlycure DS का डोज़ -

एक से दो कैप्सूल रोज़ दो से तीन बार तक खाना के बाद लेना चाहिए. अगर सिरप लेना हो तो दो स्पून रोज़ दो-तीन बार तक ले सकते हैं. बच्चों को इसका सिरप हाफ स्पून सुबह शाम देना चाहिए. या फिर डॉक्टर की सलाह से इसका डोज़ लेना चाहिए. यह ऑलमोस्ट सेफ़ दवा है, किसी तरह कोई साइड इफ़ेक्ट या नुकसान नहीं होता. लॉन्ग टाइम तक भी यूज़ कर सकते हैं. बच्चे, बड़े-बूढ़े सभी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं. प्रेगनेंसी में इसका इस्तेमाल न करें.

इसके 10 कैप्सूल की क़ीमत 75 रुपया है जबकि 100 ML के सिरप की क़ीमत 115 रुपया है, इसे दवा दुकान से या फिर ऑनलाइन ख़रीद सकते हैं निचे दिए लिंक से - 



इसे भी जानिए -








हमारे विशेषज्ञ आयुर्वेदिक डॉक्टर्स की टीम की सलाह पाने के लिए यहाँ क्लिक करें
Share This Info इस जानकारी को शेयर कीजिए
loading...

0 comments:

Post a Comment

 
Blog Widget by LinkWithin