भारत की सर्वश्रेष्ठ आयुर्वेदिक हिन्दी वेबसाइट लखैपुर डॉट कॉम पर आपका स्वागत है

14 February 2020

Amir Ras Benefits in Hindi | अमीर रस एक बेजोड़ औषधि


आज की जानकारी है शास्त्रीय आयुर्वेदिक औषधि अमीर रस के बारे में. आप जो सोच रहे वैसा अमीर-ग़रीब वाला अमीर नहीं बल्कि इस दवा का नाम ही कुछ ऐसा है सबसे अलग. आयुर्वेदानुसार यह सुज़ाक और आतशक की  बेजोड़ औषधि है, तो आईये इसके बारे में थोड़ा-बहुत जानते हैं - 

अमीर रस जैसा कि इसके नाम में ही रस जुड़ा हुआ है, यह एक रसायन औषधि है जो बहुत तेज़ी से असर करती है. 

रस कपूर, दार चिकना, सिंगरफ, चाँदी, सफ़ेद संखिया और सेंधा नमक जैसी चीज़ें इसका मुख्य घटक हैं. इसके निर्माण विधि पर चर्चा न कर आईये इसके गुणों की बात करते हैं. 

अमीर रस के गुण या प्रॉपर्टीज - 

आयुर्वेदानुसार यह कीटाणु नाशक, तीव्र रक्तशोधक यानि तेज़ी से खून साफ़ करने वाला, बिल्कुल किसी अंग्रेज़ी इंजेक्शन की तरह, वात और कफ़ नाशक है. 

अमीर रस के फ़ायदे 

सुज़ाक और आतशक यानि Gonorrohea और Syphillis या गर्मी की बीमारी की यह बेजोड़ दवा है. ग्रन्थों में इसे इन बीमारियों की 'रामबाण' औषधि कहा गया है. 
सुज़ाक और सिफलिस की वजह से होने वाले जोड़ों के दर्द, गठिया और वात रोगों में भी इस से अच्छा लाभ होता है. यह रक्त वाहिनी और वात वाहिनी नाड़ियों के विक्षोभ को दूर कर अर्धांग वात और सन्धिगत वात को दूर कर देता है. 

अमीर रस की मात्रा और सेवन विधि - 

125 mg से 250 mg तक सुबह-शाम सिर्फ़ दस दिनों तक. पुराने रोगों में इसे इक्कीस दिन तक सेवन करने का प्रावधान है रोगी के बलाबल अनुसार. 

इसे मुनक्का के अन्दर निगलकर खाने का नियम है ताकि दांत में टच न हो. पर बेस्ट यह है कि इसे कैप्सूल में भरकर यूज़ किया जाये. दांत में टच होने से दाँत ख़राब हो जाते हैं. 

मुझे एक घटना याद आती है- मेरे एरिया के एक नौसिखिये वैद्य जी ने रोगी को इसे मुनक्के में तो दिया था पर रोगी ने इसे निगलने की बजे चबा दिया था और इसकी वजह से उसके दाँतों की कंडीशन ख़राब हो गयी थी. बहरहाल, इसे विधि पूर्वक ही सेवन करना चाहिए, और वैद्य की जी देख रेख में यूज़ करना चाहिए. 

विडियो देखने वाले सभी दर्शकों से अनुरोध है कि इस औषधि को कभी भी अपने मन से यूज़ न करें, नहीं तो सीरियस नुकसान भी हो सकता है. 




हमारे विशेषज्ञ आयुर्वेदिक डॉक्टर्स की टीम की सलाह पाने के लिए यहाँ क्लिक करें
Share This Info इस जानकारी को शेयर कीजिए
loading...

0 comments:

Post a Comment

 
Blog Widget by LinkWithin