भारत की सर्वश्रेष्ठ आयुर्वेदिक हिन्दी वेबसाइट लखैपुर डॉट कॉम पर आपका स्वागत है

02 February 2022

Krishna Beejadi Churna | कृष्ण बीजादि चूर्ण

krishna beejadi churna

आज से पहले इन्टरनेट पर किसी ने भी इसके बारे में नहीं बताया है. तो आईये जानते हैं कि कृष्ण बीजादि चूर्ण क्या है? इसके फ़ायदे, इसका कम्पोजीशन और निर्माण विधि के बारे में सबकुछ विस्तार से जानते हैं- 

कृष्ण बीजादि चूर्ण के घटक या कम्पोजीशन - 

जैसा कि इसके नाम से ही पता चलता है इसका मुख्य घटक कृष्ण बीज होता है, जिसे कालादाना भी कहा जाता है. 

इसके घटक या कम्पोजीशन की बात करें तो इसे बनाने के लिए चाहिए होता है कृष्ण बीज या काला दाना, सोंठ, सनाय पत्ती, बड़ी हर्रे, सौंफ़, इसबगोल की भूसी और मिश्री प्रत्येक समभाग. सभी को कूट-पीसकर चूर्ण बना लें, बस कृष्ण बीजादि चूर्ण तैयार है. 

कृष्ण बीजादि चूर्ण के फ़ायदे 

कब्ज़ या Constipation दूर करने के लिए इसे प्रयोग किया जाता है. 

मल शुद्धि के लिए वैद्यगण इसका प्रयोग कराते हैं. 

यह आंतों की क्रियाशीलता को बढ़ाता है, गैस दूर करता है और पाचन शक्ति को इम्प्रूव करने में मदद करता है. 

यह साधारण सा पर कमाल का नुस्खा है जिसे अधिकतर लोग गुप्त ही रखते हैं. 

यह मार्केट में नहीं मिलता, खुद बनाकर प्रयोग करें, अगर नहीं बना सकें तो इसी के जैसा लाभ देने वाली औषधि 'सुगम चूर्ण' आप ऑनलाइन ख़रीद सकते हैं.




हमारे विशेषज्ञ आयुर्वेदिक डॉक्टर्स की टीम की सलाह पाने के लिए यहाँ क्लिक करें
Share This Info इस जानकारी को शेयर कीजिए
loading...

0 comments:

Post a Comment

 
Blog Widget by LinkWithin