आयुर्वेदिक दवाओं और जड़ी बूटी की जानकारी और बिमारियों को दूर करने के आयुर्वेदिक फ़ार्मूले और घरेलु नुस्खे की जानकारी हम यहाँ आपके लिए प्रस्तुत करते हैं

02 June 2017

सारस्वतारिष्ट मेमोरी पॉवर बढ़ाने और हकलाना ठीक करने की आयुर्वेदिक औषधि | Saraswatarishta Benefits in Hindi


सारस्वतारिष्ट शास्त्रीय आयुर्वेदिक दवा है जो ब्रेन टॉनिक की तरह काम करने वाली बेस्ट मेडिसिन है, इसीलिए सदियों से इसका प्रयोग किया जाता है. यह मेमोरी पॉवर बढ़ाने, मानसिक एकाग्रता और बुद्धि बढ़ाने, मिर्गी, टेंशन, स्ट्रेस, नींद नहीं आना, बेचैनी, कमजोरी, भूख की कमी, हकलाना-तुतलाना जैसी बोलने की प्रॉब्लम जैसे रोगों  को दूर करती है. महिलाओं के पीरियड की प्रॉब्लम और पुरुषों के वीर्य विकार में भी फायदेमंद है.

दिमाग तेज़ करने, भूलने की बीमारी दूर करने, सिखने की शक्ति बढ़ाने, अच्छी नींद लाने, मानसिक थकावट दूर करने, गला ठीक कर आवाज़ सुधारने के लिए बच्चे और बड़ों के लिए बेस्ट टॉनिक है. तो आईये जानते हैं सारस्वतारिष्ट का कम्पोजीशन, फ़ायदे और इस्तेमाल की पूरी डिटेल-

सारस्वतारिष्ट आयुर्वेदिक ग्रन्थ भैषज्यरत्नावली का योग है इसमें जड़ी-बूटियों के अलावा सोने का वर्क या स्वर्ण पत्र भी मिलाया जाता है. मार्केट में मिलने वाले सारस्वतारिष्ट में अधिकतर कंपनियां सोना या गोल्ड नहीं मिलाती हैं, सोना मिला हुवा सारस्वतारिष्ट, सारस्वतारिष्ट स्वर्ण युक्त या सारस्वतारिष्ट विथ गोल्ड के नाम से मिलता है. सारस्वतारिष्ट स्वर्ण  युक्त ही सबसे ज्यादा असरदार है.



तो एक नज़र डालते हैं इसके कम्पोजीशन पर- 

सारस्वतारिष्ट का मुख्य घटक ब्रह्मी है, ब्रह्मी के अलावा इसमें शतावर, विदारीकन्द, हरीतकी, उशीर, सोंठ,सौंफ़,शहद,मिश्री, धाय के फूल, निर्गुन्डी, त्रिवृत, पिप्पली, लौंग, बच, कुठ, अश्वगंधा, बहेड़ा, गिलोय, छोटी इलायची, विडंग, दालचीनी और सोने का वर्क या गोल्ड लीफ़ मिला होता है. आयुर्वेदिक प्रोसेस आसव-अरिष्ट विधि से इसका रिष्ट या सीरप बनाया जाता है

इसे भी पढ़ें - हिमालया Mentat के फ़ायदे 

सारस्वतारिष्ट के गुणों की बात करें यह यादाश्त या मेमोरी पॉवर बढ़ाने वाली, तनाव रोधी यानि Anti-stress, अवसाद रोधी यानि Anti-depressive, Anti-aging, Anti-oxidant, त्रिदोष नाशक, ह्रदय को शक्ति देने वाली और आवाज़ सुधारने वाले गुणों से भरपूर होती है

आयुर्वेदानुसार इस तरह की मानसिक बीमारियों में इसका प्रयोग करना चाहिए जैसे - यादाश्त की कमी, कंसंट्रेशन की कमी, बेचैनी, उग्र और आक्रामक हो जाना, निराशा, जीवन से निराश होना, किसी काम में मन नहीं लगना, चिडचिडापन, नीद की प्रॉब्लम, थकावट, ख़ुद को कमतर समझना, हीन भावना का शिकार होना, कोई डिसिज़न नहीं कर पाना,आत्म हत्या या आत्मघाती विचार आना.

इसे भी पढ़ें - दिमाग की यूनानी दवा 'ख़मीरा गावज़बाँ अम्बरी जवाहर वाला'

सारस्वतारिष्ट बेहतरीन ब्रेन टॉनिक के अलावा बॉडी टॉनिक भी है. दीमाग की प्रॉब्लम दूर करता है, हार्ट को ताक़त देता है, शरीर में बल, ओज और वीर्य को बढ़ाता है.

हकलाना-तुतलाना या बोलने की प्रॉब्लम को दूर करने की यह एक अच्छी दवा है, पर इसे लॉन्ग टाइम तक यूज़ करना चाहिए. कम से कम छह महिना या इस भी ज़्यादा टाइम तक यूज़ करने से हकलाने की प्रॉब्लम दूर हो जाती है. गायकी करने वाले या सिंगर लोग भी इसका इस्तेमाल कर अपनी आवाज़ की क्वालिटी को बढ़ा सकते हैं

इसे भी पढ़ें- हकलाना-तुतलाना दूर करने के घरेलु उपचार 

ज्यादा दिमागी काम करने वाले लोग माइंड पॉवर बढ़ाने के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते हैं. मिर्गी या Epilepsy में इसे दूसरी दवाओं के साथ लेने से लाभ होता है.

इसे भी पढ़ें - मिर्गी(Epilepsy) का आयुर्वेदिक ईलाज 

सारस्वतारिष्ट के फ़ायदे का निचोड़ बस यह समझ लीजिये कि मेमोरी पॉवर बढ़ाने, दिमाग मज़बूत करने, मानसिक रोग दूर करने और हकलाना, बोलने की प्रॉब्लम दूर करने और आवाज़ ठीक करने की यह एक बेस्ट मेडिसिन है.


सारस्वतारिष्ट की मात्रा और सेवन विधि -

15 से 30 ml तक रोज़ दो बार बराबर मात्रा में पानी मिलकर खाना खाने के तुरंत बाद लेना चाहिए

बच्चों को उनकी उम्र के मुताबिक़ या डॉक्टर की सलाह से डोज़ फिक्स करें. सारस्वतारिष्ट पूरी तरह से सुरक्षित दवा है, किसी तरह का कोई भी साइड इफ़ेक्ट नहीं होता है. शुगर रोगी भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं, शुगर लेवल को ध्यान में रखते हुवे. लॉन्ग टाइम तक यूज़ कर सकते हैं. इसे छह महिना से दो साल तक भी इस्तेमाल कर सकते हैं
बैद्यनाथ, डाबर, सांडू, पतंजलि जैसी कंपनियों का यह मार्किट में मिल जाता है. घर बैठे ऑनलाइन ख़रीदें नीचे दिए लिंक से-

Watch here in Urdu/Hindi


(लखैपुर वेबसाइट के ऍनड्राइड ऐप प्ले स्टोर से डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें)
Share This Info इस जानकारी को शेयर कीजिए
loading...

0 comments:

Post a Comment

 
Blog Widget by LinkWithin