भारत की सर्वश्रेष्ठ आयुर्वेदिक हिन्दी वेबसाइट लखैपुर डॉट कॉम पर आपका स्वागत है

23 दिसंबर 2016

Patanjali Youvan Gold Plus Capsule | पतंजलि यौवन गोल्ड प्लस कैप्सूल शीघ्रपतन और पुरुष रोगों के लिए


यौवन गोल्ड प्लस कैप्सूल पुरुषों की हर तरह की सेक्सुअल प्रॉब्लम को दूर कर चुस्ती फुर्ती और रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है

इसके इस्तेमाल से पुरुषों की बहुत ही कॉमन प्रॉब्लम शीघ्रपतन या जल्द डिस्चार्ज हो जाना, इरेक्टाइल डिसफंक्शन, स्वप्नदोष, स्टैमिना की कमी, सेक्स कमज़ोरी, यौनेक्षा की कमी, नपुंसकता, नसों की कमज़ोरी, लिंग में तनाव की कमी, ढीलापन इत्यादि दूर होते हैं और शरीर में बल वीर्य की वृद्धि होती है

सोना, चाँदी और हीरे मोती जैसी कीमती चीज़ों के मिश्रण से बनी यह दवा बेहद असरदार है, तो आईये सबसे पहले एक नज़र डालते हैं इसके कम्पोजीशन पर -
इसमें मिलाया गया है

स्वर्ण भस्म - शरीर को शक्ति देने वाला, बल वीर्य बढ़ाने वाला, सेक्सुअल प्रॉब्लम दूर करने वाली औषधि स्वर्ण भस्म एक रसायन औषधि है जो अपने बेजोड़ गुणों के कारण विख्यात है

हीरक भस्म - हीरा या डायमंड का भस्म. आयुर्वेद में हीरा को हीरक कहते हैं और इसकी शुद्धि कर आयुर्वेदिक प्रोसेस से इसका भस्म बनाया जाता है. हीरक भस्म मिला होने से यह दवा बेजोड़ बन जाती है. हीरक भस्म जो है आयुर्वेद की महान दवाओं में से एक है. पुरुषों की सेक्सुअल प्रॉब्लम को दूर करने के लिए आयुर्वेदिक औषधियों में इसका सर्वोच्च स्थान है और बेस्ट औषधि है

हीरक भस्म नसों की कमज़ोरी दूर करता है और स्टैमिना बढ़ाता है और लिंग को हीरे की तरह कठोर बनाने में मदद करता है

मोती पिष्टी - मोती या पर्ल जो असली मोती होती उसे शोधित कर गुलाब जल में खरल कर बारीक़ पॉवर बनाया जाता है, इसे मोती पिष्टी कहते हैं. मोती पिष्टी शरीर में टॉनिक की तरह काम करती है, दिमाग को शांति देने वाली, कैल्शियम की कमी को पूरा कर हड्डियों को मजबूत बनाने वाली और नर्वस System को शक्ति देकर सेक्सुअल प्रॉब्लम को दूर करती है

पतंजलि यौवानामृत वटी, शीघ्रपतन और पुरुष रोगों की औषधि 

रजत भस्म - आयुर्वेद में चाँदी को रजत कहते हैं और इसके भस्म को रजत भस्म. यह शरीर को शक्ति देता है, पित्त को शांत करता है और स्टैमिना बढ़ाने में मदद करता है

इसके अलावा यौवन गोल्ड प्लस कैप्सूल में मकरध्वज, प्रवाल पिष्टी, कहरवा पिष्टी, अभ्रक भस्म, लौह भस्म, त्रिवंग भस्म, केशर, सफ़ेद मुसली, अकरकरा, सालब मिश्री, तालमखाना, कपूर, कुचला, जायफल, जावित्री, अजवायन, कनक बीज, बला, शिलाजीत, असगंध, कौंच बीज, सर्पगंधा, रूमी मस्तंगी, विधारा, छोटी इलायची, बहमन सफ़ेद, मालकांगनी जैसी जड़ी बूटियां और खनिज मिलाये गए हैं

इसमें पान का रस, एलो वेरा, खसखस और विजयपत्र की भावना भी दी जाती है जिसकी वजह से यह बेजोड़ पावरफुल दवा बन जाती है


पतंजलि यौवन गोल्ड प्लस के फ़ायदे- 

शरीर को पुष्टि प्रदान कर ताक़त और स्टैमिना को बढ़ाता है

शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है

शीघ्रपतन या जल्द डिस्चार्ज हो जाने की प्रॉब्लम को दूर कर टाइमिंग को बढ़ाता है और परफॉरमेंस को बेहतर बनाता है

रसेन्द्र चूड़ामणि रस शीघ्रपतन का महाकाल 

वीर्य दोष को मिटाता है, वीर्य को गाढ़ा करता है और शुक्राणुओं की संख्या या Sperm count को बढ़ाता है जिस से Infertility में भी फ़ायदा होता है

सेक्स कमज़ोरी, सेक्स की इच्छा न होना, जाने अनजाने में वीर्य निकल जाना, स्वप्नदोष जैसी प्रॉब्लम को दूर करता है

नपुंसकता या Impotency को दूर करता है

कुल मिलाकर देखा जाये तो यह दवा पुरुषों की हर तरह की प्रॉब्लम को दूर करने के लिए बेजोड़ औषधि है


यौवन गोल्ड प्लस कैप्सूल का डोज़ और सेवन विधि -

1-1 कैप्सूल सुबह शाम दूध के साथ भोजन के बाद लेना चाहिए

पूरी तरह से सुरक्षित आयुर्वेदिक दवा है, लम्बे समय तक भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं, इस्तेमाल करते हुवे पहले महीने से ही इसका असर दिखने लगता है

पतंजलि स्टोर से या ऑनलाइन भी इसे ख़रीदा जा सकता है, लिंक निचे दिया जा रहा है -

तो दोस्तों, ये थी आज की जानकारी पतंजलि यौवन गोल्ड प्लस कैप्सूल के फ़ायदे और इस्तेमाल के बारे में.


loading...
हमारे विशेषज्ञ आयुर्वेदिक डॉक्टर्स की टीम की सलाह पाने के लिए यहाँ क्लिक करें
Share This Info इस जानकारी को शेयर कीजिए
loading...

3 टिप्पणियाँ:

 
Blog Widget by LinkWithin