भारत की सर्वश्रेष्ठ आयुर्वेदिक हिन्दी वेबसाइट लखैपुर डॉट कॉम पर आपका स्वागत है

09 May 2019

Amlpittantak Churna | अम्लपित्तान्तक चूर्ण- एसिडिटी/हाइपर एसिडिटी की औषधि



एसिडिटी और हाइपर एसिडिटी आज की बहुत ही कॉमन प्रॉब्लम है, हर तीसरा आदमी इस से किसी न किसी तरह से परेशान है. इसके लिए अम्लपित्तान्तक चूर्ण बेहद असरदार है, इसी के बारे में आज के इस विडियो में विस्तार से चर्चा करते हैं –

अम्लपित्तान्तक चूर्ण जैसा कि इसका नाम है वैसा ही इसका काम है. अम्लपित्त यानि एसिडिटी का अन्त करने वाला


अम्लपित्तान्तक चूर्ण के घटक या कम्पोजीशन – 

इसका फ़ॉर्मूला ऐसा है जो किसी भी दूसरी शास्त्रीय औषधि में नहीं मिलता है. यह बड़ा ही असरदार है. इसे कर्पूर कचरी, श्वेत चन्दन, सौंफ़, मुलहठी, आँवला, धनिया, कमलगट्टा, सर्जिकाक्षार और छोटी इलायची जैसी चीज़ों से बनाया जाता है.

अम्लपित्तान्तक चूर्ण के गुण –

यह बेहतरीन Antacid, Anti inflammatory, Anti Emetic यानि उल्टी नाशक और  Digestive गुणों से भरपूर होता है.

अम्लपित्तान्तक चूर्ण के फ़ायदे-

एसिडिटी और हाइपर एसिडिटी चाहे नयी हो या पुरानी सभी में इसका सेवन करना चाहिए.

सीने की जलन, खट्टी डकार आना, उबकाई, उल्टी, भूख नहीं लगना, पेट की सुजन, पेप्टिक अल्सर जैसे रोगों में इसके सेवन से स्थायी लाभ होता है.

जहाँ आधुनिक Antacid फेल हो वहाँ भी इसके सेवन से लाभ हो जाता है.

अम्लपित्तान्तक चूर्ण की मात्रा और सेवन विधि –

दो से तीन ग्राम तक ताज़े पानी से रोज़ दो-तीन बार तक लेना चाहिए. यह बिल्कुल सुरक्षित औषधि है, लगातार सेवन से स्थायी लाभ होता है. इसके एक सौ ग्राम के पैक की क़ीमत है सिर्फ़ 80 रुपया जिसे आप ऑनलाइन ख़रीद सकते हैं दिए लिंक से-


हमारे विशेषज्ञ आयुर्वेदिक डॉक्टर्स की टीम की सलाह पाने के लिए यहाँ क्लिक करें
Share This Info इस जानकारी को शेयर कीजिए
loading...

0 comments:

Post a Comment

 
Blog Widget by LinkWithin